Powered by Blogger.

whatsapp security tips that you must know

जरुर जानें whatsapp से सम्बंधित  संभावित खतरों एवं बचाव के बारे में
whatsapp-security-tips
whatsapp बिजनेस की दुनिया में नाम का मोहताज नहीं है | whatsapp एक बड़े नाम के रूप में उभर के आया है | पर जिस रफ़्तार से ये उभर के आया है उसी रफ़्तार से उन लोगों की संख्या भी काफी तेजी से बढ़ी है जो इसका नाजायज फायदा उठाना चाहते हैं | whatsapp से सम्बंधित कई खतरे हैं जिनके बारे में आपका जानना जरुरी है | आएये जानते ऐसे ही कुछ संभावित खतरों एवं उनसे बचाव के बारे में |


User phone spying – फ़ोन की घुसपैठ 



user-phone-spying

वैसे तो whatsapp में end to end डाटा की एन्क्रिप्शन टेक्नोलॉजी है जो इसे पहले से कहीं ज्यादा सुरक्षित और भरोसेमंद बनता है | इसके अलावा के ऐसे तरीके भी हैं जिनकी मदद से घुसपैठिये आपकी कन्वर्सेशन देख सकते हैं | अज बाज़ार में कई free और paid सॉफ्टवेयर उपलभ्द हैं जो ये संभव बनाते हैं | ऐसे ही एक सॉफ्टवेयर का नाम है mSpy |

जी हाँ ये सॉफ्टवेयर आपकी साडी पर्सनल डाटा जैसे की कॉल डिटेल, इन्टरनेट ब्राउज़िंग, टेक्स्ट मेस्सगेस और यहाँ तक की आपकी लोकेशन भी इसके संचालक को भेजती रही है | और बड़ी बात तो ये की आपको पता भी नहीं चलता की कोई आपके फ़ोन पे पल-पल निगाह रख रहा है | इस तरह के चंगुल में न फंसने का सबसे सीधा और सरल उपाय यही है की आप अपना एंड्राइड मोबाइल फ़ोन किसी भी अनजान व्यक्ति को ना दें |


मैसेज क्रेशिंग – Message Crashing


whatsapp-crash-image-3

कुछ समय पहले किसी टेक्नो-प्रेमी ने ये पता लगाया की यदि आप किसी को 7 MB से ज्यादा साइज़ का मेसेज भेजते हैं तो whatsapp क्रेश हो सकता है | जब एक बार ये मेसेज आपके फ़ोन में आ जाता है और आप जितनी बार भी उस मेसेज को खोलने की कोशिश करते हैं तब तब आपका whatsapp क्रेश हो जाता है | पता यह भी लगा की की यदि बहुत छोटे मेसेज भी भेजे जाएँ , मतलब की 2 KB  ( जिनमे स्पेशल करक्टेर्स का इस्तेमाल किया गया हो ) के साइज़ की तो भी आपके whatsapp को क्रेश कर सकते हैं |



whatsapp ऑनलाइन Interface :-


whatsapp-on-line-interface-image

जैसा की हम जानते हैं की अब हम whatsapp को अपने कंप्यूटर से भी कण्ट्रोल कर सकते है, और ये संभव हो पाया है whatsapp के ऑनलाइन इंटरफ़ेस की सुविधा होने से , लेकिन कुछ ऑनलाइन शरारती तत्वों ने इसकी भी duplicate कर ली है जो की एक Malware है और इसका उद्देश्य आपके कंप्यूटर में ढेर सारे  मैलवेयर कोड्स को डाउनलोड करना होता है जिससे की आपकी पर्सनल जानकारी गलत हाथों में पहुँच जाती है |
इससे बचाव का सबसे सुरक्षित तरीका है की आप जब भी अपने कंप्यूटर से whatsapp के ऑनलाइन इंटरफ़ेस को यूज करे तो अपने ब्राउज़र के एड्रेस बार में whatsapp ऑनलाइन इंटरफ़ेस के ऑफिसियल लिंक को ही डालें ताकि आप इसके ऑफिसियल पोर्टल से आप अपना प्रोफाइल एक्सेस कर सके |
whatsapp के ऑनलाइन इंटरफ़ेस का ऑफिसियल एड्रेस है – https://web.whatsapp.com/


तो क्या हम whatsapp यूज न करें ?

बिलकुल नहीं, आप हमेशा की तरह whatsapp उसे करें , परन्तु थोड़ी सी सावधानी के साथ, नहीं तो फिर हमारे बताने का फायदा क्या होगा ?

यदि हम इन्टरनेट या अपने एंड्राइड फ़ोन पर ऊपर दिए गए संभावित खतरों एवं उनसे बचाव का पूरा पूरा ध्यान रखेंगें तो शायद हमें किसी भी अनचाहे मुश्किल में न पड़ना पड़े |
आशा है आपको हमारा ये लेख जरुर पसंद आया होगा और आप इस जानकारी से लाभ भी उठायेंगें और अपने परिवार के सदस्यों और अपने मित्रों को भी बतायेंगें ताकि इन्टरनेट के फायदे को हम अपना सकें नाकि कुछ नुकसान उठाना पड़े |