Powered by Blogger.

Sardar jokes- sardar kills a man



Jaj - kya tumne is aadmi ko maara ?

Sardar - nahin jaj sahab, is bechare ki maut to goli lagne se huyi hai, aur goli dhatu ki bani hoti hai
              , dhatu dharti ke bheetar se ati hai aur dharti prakriti ka ang hai, isliye iski maut to prakritik apda se huyi hai, main to bekasoor hun.




जज - क्या तुमने इस आदमी को जान से  मारा ?

सरदार - नहीं जज साहब, इस बेचारे की मौत तो गोली लगने से हुई, और गोली धातु की बनी होती है
             , धातु धरती के भीतर से आती है और धरती प्रकृति का अंग है, इसलिए इसकी मौत तो
              प्राकृतिक आपदा से हुई है , मैं तो बेक़सूर हूँ |





Sardar jokes